Na Jaane Kya Kashish Hai Unki Madhosh

Hindi Shayari New

hindi shayari new - na jaane kya kashish hai unki madhosh aankho me kitni bhi koshish kar lo nazar unhi par padti hai

न जाने क्या कशिश है उनकी मदहोश आँखों में,
कितनी भी कोशिश कर लो नज़र उन्ही पर पड़ती है।।

Leave a Comment